Paragraph on pollution in hindi. Free Essays on Plastic Pollution In Hindi 2019-01-14

Paragraph on pollution in hindi Rating: 6,7/10 1562 reviews

पर्यावरण प्रदुषण विषय पर निबंध / Essay On Pollution In Hindi

paragraph on pollution in hindi

Atlantic Ocean, Bottle, Bottled water 934 Words 3 Pages Argumentative Essay Paragraph 1—Introduction: Preview the structure of the essay. So why do we use plastics? Causes Air pollution is caused when we release impurities such as dangerous chemicals, vehicle smoke, and other pollutants brought about by human activities. People need to be enlightened on the dangers of air pollution and ways to reduce the amount of pollutants released to the air. Inability to apply considerations for the city of Phoenix deteriorating infrastructure, increased traffic congestion, air, and water quality options will negatively degrade and prevent. Walking or cycling instead of driving, recycling and reusing plastic bags and carry-alls, and using energy efficient electronics will all lead to solving this problem. पिछले दो सौ वर्षों की वैज्ञानिक और तकनीकी प्रगति ने मनुष्य का जीवन काफी सुविधाजनक बना दिया है औद्योगिक क्रांति ने करोड़ों लोगों का जीवन खुशहाल बना दिया है नई-नई दवाइयों की खोज के कारण लोगों की आयु लंबी हो रही है मृत्यु दर पहले से काफी कम हो गई है इस तरह हम पाते हैं कि इस मशीनी युग ने हमें काफी कुछ दिया है लेकिन यदि हम अपने आस-पास के पर्यावरण को देखे तो हमें पता चलेगा कि यह प्रगति ही हमारे जीवन में जहर भी घोल रही है इस जहर का एक रूप है आज चरों तरफ फैला प्रदूषण प्रदूषण कई प्रकार के होते हैं — वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण, भूमि प्रदूषण, ध्वनी प्रदूषण आदि प्रदूषण के यह सारे रूप घातक है किंतु जिस प्रदूषण ने हमारे देश के सबसे ज्यादा लोगों को प्रभावित किया है वह है जल प्रदूषण जल प्रदूषण से तात्पर्य है नदी, झीलों, तालाबों, भूगर्भ और समुद्र के जल में ऐसे पदार्थों का मिश्रण जो पानी को जीव-जंतुओं और प्राणियों के प्रयोग के अयोग्य बना देती है इससे जल पर आधारित हर जीवन प्रभावित होता है जल प्रदूषण का मुख्य कारण हमारे उद्योग धंधे हैं हमारे उद्योगों, कल-कारखानों से निकलनेवाला रासायनिक कचरा सीधे नदियों और तालाबों में छोड़ दिया जाता है यह कचरा अत्यधिक जहरीला होता है यह पानी को भी जहरीला कर देती है नदी-तालाब में रहनेवाले जीव-जंतु मर जाते हैं कई पशु इस पानी को पीकर मरते हैं तो कई मनुष्य बीमार पड़ते है उद्योग धंधे के अलावा भी जल प्रदूषण के कई और कारक है हमारे शहरों और गाँवों से निकलने वाला हजारों टन कचरा नदियों या समुद्रों में छोड़ दिया जाता है आज कल खेती के लिए भी रासायनिक उर्वरकों और दवाईयों का प्रयोग हो रहा है इन सब से पानी के स्रोत प्रभावित हो रहे हैं समुद्र के पानी के प्रदूषित होने का सबसे बड़ा कारण है प्रदूषित नदियों के जल का समुद्र में मिलना इसके अलावा अनुपयोगी प्लास्टिक का बढ़ता ढेर भी समुद्र में बहा दिया जाता है कई बार दुर्घटना के कारण जहाजों का इंधन समुद्र में फैल जाता है यह तेल दूर-दूर तक समुद्र में फैल जाता है और समुद्र के पानी पर एक परता बना देता है इसके कारण पानी में रहनेवाले अनगिनत जीव-जंतु मर जाते हैं इन सब कारणों से आज जल प्रदूषण काफी भयानक समस्या बन चुका है जिन नदियों और तालाबों का पानी पीकर लोग जीवित रहते थे, अब वो पीने योग्य नहीं रहे करोड़ों लोग पीने के पानी की समस्या झेल रहे हैं हमारी सरकार को चाहिए कि जल प्रदूषण की समस्या के समाधान के लिए त्वरित कदम उठाये सबसे पहले तो उद्योगों और कारखानों पर इस बात की पाबंदी लगाई जाए कि वो अपन कचरा नदियों और तालाबों में न बहाए शहरों से निकलनेवाले कचरे को भी ठीक से परिमार्जित किये बिना पानी के स्रोतों में न बहाया जाए खेती में रासायनिक उर्वरकों का प्रयोग बंद किया जाए व उसके बदले जैविक खेती को बढ़ावा दिया जाए जल प्रदूषण ने अब आपातकाल का रूप ले लिया है ऐसे में हमें तत्काल कई बड़े कदमों की जरुरत है यदि हम चाहते हैं कि हमारे देशवासियों को सुरक्षित पीने का पानी मिलता रहे और पानी के स्रोत लंबे समय तक सुरक्षित रहे तो हमें आज से ही उसके लिए कदम उठाने पड़ेंगे इस मामले में और देरी करना घातक सिद्ध हो सकता है Water pollution in Hindi प्रदूषण की समस्या पर निबंध के लिए क्लिक करे.

Next

Essay on Land Pollution in Hindi

paragraph on pollution in hindi

In general, both air and water pollution can be reduced by utilizing the modern technology that humans have developed. Hemp produces four times as much pulp with at least four to seven times less pollution. According to the global ecology handbook, Each American produces about 4. भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में प्रदूषण एक बड़ा पर्यावरणीय मुद्दा है जिसके बारे में हर किसी को पता होना चाहिए. Different kinds of pollution are found. Coz It can destroy our air water and land.


Next

Essay on Pollution In Hindi

paragraph on pollution in hindi

Many changes attributed to the greenhouse effect cause a ripple effect, with the impact starting on smaller species and eventually reaching larger species, like humans. Air pollution occurs when the air includes dust, fumes or gases. What household chemicals might be harmful if not disposed of properly? One of the most important causes of pollution is the high rate of energy usage by modern, growing populations. पेड़ो की घटती संख्याओं के कारण पर्यावरण में कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा बढ़ती जा रही है। जिसके कारण ग्लोबल वार्मिंग जैसी गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। प्रदूषण को कैसे रोके आज के समय में प्रदूषण एक महत्वपूर्ण समस्या बन चुका है, जिसे हमें नियंत्रित करने की आवश्यकता है। इसे समय रहते नियंत्रित करने के लिए हम कुछ आवश्यक उपाय अपना सकते है, इन्हीं में से कुछ उपायों के विषय में नीचे बताया गया है। और अधिक पेड़ लगाकर वनीकरण और पेड़ लगाना प्रदूषण से लड़ने का सबसे अच्छा तरीका है, हम जितने ज्यादे पेड़ लगायेंगे उतने ही ज्यादे कार्बन डाइऑक्साइड और दूसरी हानिकारक गैसों का अवशोषण होगा और हमारा पर्यावरण तथा वायु उतनी ही स्वच्छ होगी। वाहनों के उपयोग को घटाकर हम वाहनों का उपयोग जितना कम करेंगे इनसे निकलने वाली हानिकरक गैसों का उत्सर्जन उतना ही कम होगा। इसके जगह हमें बाइसाइकल के उपयोग को बढ़ावा देना चाहिए। उपयुक्त कचरा निस्तारण उपयुक्त कचरा निस्तारण के तरीकों द्वारा हम उद्योगों के विषैले तत्वों को पर्यावरण में मिलने से रोक सकते है। यह वायु और जल प्रदूषण को रोकने के साथ ही जलीय जीवों को बचाने में भी काफी कारगर साबित होगा क्योंकि समुद्रों और नदियों में बिना प्रदूषण के यह जीव आराम से अपना जीवन व्यतीत कर सकते है। सीमित मात्रा में किटनाशकों का उपयोग करना किसानों को खेती में रासायनिक किटनाशकों के उपयोग को कम करना चाहिए और फसलों की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए जैविक खाद का उपयोग करना चाहिए। ऐसा करके हम भूमि की उर्वरकता को बनाये रख सकते है तथा भूजल को भी प्रदूषित होने से बचा सकते है। पुनरुपयोग और पुनरावृत्ति करके वस्तुओं की पुनरावृत्ति करना भी प्रदूषण को रोकने का एक अच्छा उपाय है। यह इधर-उधर फैलने वाले कचरे से होने वाले प्रदूषण को रोकने में सहायता करता है और पर्यावरण को स्वच्छ और साफ-सुथरा बनाये रखने में सहयोग करता है। निष्कर्ष हमारे पास अपने पर्यावरण को बचाने के लिए अभी भी समय मौजूद है परन्तु इसके लिए हम सबको मिलकर संगठित प्रयास करने की आवश्यकता है। पर्यावरण प्रदूषण को रोकने के लिए हमें लोगों को वैश्विक स्तर पर जागरुक करने की आवश्यकता है। हमें अपनी जिम्मेदारी को समझने की आवश्यकता है और अपने ग्रह को स्वंय तथा अन्य दूसरी प्रजातियों के लिए और भी अच्छा बनाने के लिए प्रयास करने की आवश्यकता है। प्रदूषण पर बड़ा निबंध 13 1600 शब्द प्रस्तावना आज के समय में प्रदूषण एक वैश्विक समस्या बन चुका है। इसने हमारे पृथ्वी को पूर्ण रुप से बदल कर रख दिया है और दिन-प्रतिदिन पर्यावरण को क्षति पहुंचाते जा रहे है, जोकी हमारे जीवन को और भी ज्यादे मुश्किल बनाते जा रहा है। कई तरह के जीव और प्रजातियां प्रदूषण के इन्हीं हानिकारक प्रभवों के कारण धीरे-धीरे विलुप्त होते जा रहीं है। प्रदूषण को इसके प्रकृति के आधार पर कई वर्गों में बांटा गया है, विभिन्न प्रकार के प्रदूषण हमारे ग्रह को विभिन्न प्रकार से नुकसान पहुंचा रहे है। इन्हीं प्रदूषणों के प्रकार, इनके कारणों, प्रभावों और रोकथाम के विषय में नीचे चर्चा कि गयी है। प्रदूषण के प्रकार यह है मुख्य प्रकार के प्रदूषण उनके कारण तथा उनके द्वारा उत्पन्न होने वाले प्रभाव, जोकि हमारे पर्यावरण और दैनिक जीवन को कई तरह से प्रभावित करते है। 1. Simple things such as saving electricity, fuel, using biodegradable materials, recycling, among others count in reducing pollution. Our exclusive blend of quantitative forecasting. Air pollution, Clean Water Act, Environment 1705 Words 6 Pages Methods of Paragraph Development Methods of development are patterns of organization use to organize ideas about a topic.

Next

प्रदूषण पर निबंध / Essay on Pollution in Hindi

paragraph on pollution in hindi

अपने आस-पास की जगहों को साफ-सुथरा रखकर हमें अपने आस पास की जगहों को साफ-सुथरा रखना चाहिए और कूड़े को डस्टबीन में ही फेकना चाहिए। ऐसा करके हम एक बड़ा परिवर्तन ला सकते है और अपने पर्यावरण को स्वच्छ रखने में अपना अहम योगदान दे सकते है। 5. An understanding of different methods of development and when to use them can save you valuable time in starting and organizing your essay. Many people would quickly answer that something with monetary value, like oil or gold, would be the most valuable thing on earth. However, the waste of early peoples was mostly food scraps and other substances that broke down easily by natural decay processes. Substances which cause pollution or alter the natural quality of the air, water and soil are called pollutants.


Next

प्रदूषण पर निबंध Essay on Pollution in Hindi

paragraph on pollution in hindi

इस ग्रह ने हमें जिंदगी दी और हमने इस ग्रह को प्रदूषित किया. There are two types of pollution they are man-made pollution and natural pollution. In effect air pollution is one of the biggest problems, which are threatening people and earth. The chimneys of industries emit smoke and vehicles have fumes, which directly contribute to air pollution. स्थापित नहीं करता तब तक उसकी औद्योगिक प्रगति व्यर्थ है । इस प्रगति को नियन्त्रण में रखने की जरूरत है । मशीन हम पर शासन न करे बल्कि हम मशीन पर शासन करें । हम ऐसे औद्योगिक विकास से विमुख रहें, जो हमारे सहज जीवन में बाधा डाले । हम वनों, पर्वतों, जलाशयों और नदियों के लाभ से वंचित न हों । नगरों के साथ -साथ ग्राम भी सम्पन्न बने रहे क्योंकि बहुत-सी बातों में नगर ग्रामों पर निर्भर करते हैं । नगरीय संस्कृति के साथ -साथ ग्रामीण संस्कृति का भी विकास होता रहे । समाधान प्रदूषण की समस्या से बचने के लिए यह जरूरी है कि विषैली गैस, रसायन तथा जल-मल उत्पन्न करने वाले कारखानों को आवास के स्थानों से कहीं दूर खुले स्थानों पर स्थापित किया जाए ताकि नगरवासियों को प्राकृतिक खुराक ऑक्सीजन, प्राणवायु प्राप्त होती रहे । इसके साथ ही नगरों के जल-मल के बाहर निकालने वाले नालों को जमीन के नीचे दबाया जाए ताकि ये वातावरण को प्रदूषित न कर सकें । वन महौत्सव के महत्त्व को समझते हुए बारा-बगीचों का विकास किया जाए । सड़कों के किनारों पर वृक्ष लगाएं जाएं । औद्योगिक उन्नति एवं प्रगति की सार्थकता इसमें है कि मनुष्य सुखी, स्वस्थ एवं सम्पन्न बना रहे । इसके लिए यह जरूरी है कि प्रकृति को सहज रूप से अपना कार्य करने के लिए अधिक-से-अधिक अवसर दिया जाए । नीचे प्रदूषण की समस्या पर एक निबंध बिना नुक्ते के भी दिया गया है. The sources of pollution are numerous.

Next

जल प्रदूषण ( Water pollution in Hindi )

paragraph on pollution in hindi

इसके कारण जीवन तनावग्रस्त हो गया है । प्रदूषण को रोकने का सर्वोत्तम उपाय है जनसंख्या पर नियंत्रण । सरकार को चाहिए कि वह नगरों की सुविधाएं गांवों तक भी पहुंचाए ताकि शहरीकरण की अंधी दौड़ बंद हो । हरियाली को यथासंभव बढ़ावा देना चाहिए । जगह-जगह वृक्ष लगाने चाहिए । प्रदूषण बढ़ाने वाली फैक्टरियों के प्रदूषित जल एवं कचरे को संसाधित करने का प्रबंध करना चाहिए । जल प्रदूषण से सभी नदियां, नहरें, भूमि दूषित हो रही हैं । परिणामस्वरूप हमें प्रदूषित फसलें मिलती हैं, गंदा जल मिलता है । आजकल वाहनों, फैक्टरियों और मशीनों के सामूहिक शोर से रक्तचाप, मानसिक तनाव, बहरापन आदि बीमारियां बढ़ रही हैं । जहाँ जनसंख्या बढ़ती है, वहीं उद्योगों की संख्या भी बढ़ती चली जा रही है । इन्हीं उद्योगों से निकलने वाले जहरीले पदार्थ, रसायन आदि नदी-नालों में बहा दिए जाते हैं जो अपने आसपास के क्षेत्रों में प्रदूषित जल से उत्पन्न रोगों को जन्म देते हैं । नगरों व महानगरों से होकर निकलने वाली नदियों का जल प्रदूषित हो गया है, जिससे उस जल का सेवन करने वाले प्राणी अनेक घातक रोगों से ग्रस्त हो जाते हैं । अधिक पैदावार के लिए जब कीटनाशकों का अधिक प्रयोग किया जाता है तो इनका स्वास्थ्य पर घातक प्रभाव पड़ता है । परमाणु शक्ति के उत्पादन ने वायु, जल एवं ध्वनि तीनों प्रकार के प्रदूषण को बढ़ावा दिया है । भूमि पर पड़े कूड़े-कचरे के कारण भूमि प्रदूषण होता है । महानगरों में झुग्गी-झोपड़ियों के कारण भी भूमि प्रदूषण होता है । आवास की समस्या को सुलझाने के लिए वनों की कटाई भी वायु प्रदूषण का मुख्य कारण है । जल प्रदूषण से पेट तथा आतों के रोग जैसे हैजा, पीलिया आदि हो जाते हैँ । ध्वनि प्रदूषण से मानसिक तनाव, उच्च रक्तचाप, हृदय रोग आदि की संभावना रहती है । प्रदूषण के कारण कैंसर, एलर्जी तथा चर्म रोग में भी वृद्धि हो रही है । प्रदूषण की समस्या केवल भारत में ही नहीं है यह पूरे विश्व में विद्यमान है । वृक्षारोपण इसे रोकने का सर्वोत्तम उपाय है । वृक्ष हमें ऑक्सीजन देते हैं । वनों की अंधाधुंध कटाई पर रोक लगानी चाहिए । वाहनों के प्रदूषण को रोकने के लिए उनके लिए सी -एन. Pollutants is components of pollution where it can be. Air pollution, Alternative energy, Catalytic converter 1102 Words 3 Pages environment! There are relationships between actions that we make and the environment, the most obvious one being pollution. Plastic pollution is one of the most. Any gaseous material not considered a a normal constituent of air. As a result, pollution was less concentrated and caused. Air pollution is caused by a.


Next

Pollution Essay in Hindi

paragraph on pollution in hindi

For Example, Examples: gas, smoke, and chemicals. Around 20% of ocean water pollution occurs naturally Curious. A city where beauty lays in everything you see. योजनापूर्ण निर्माण करके आज के समय में निर्माण पहले की अपेक्षा काफी तेजी से किया जाता है, इसके अलावा यह अनियोजित और अनयमित भी होता है। दृश्य प्रदूषण ऐसे ही अनियमित और अनियोजित निर्माणों का परिणाम है। यदि आप किसी शहर के निवासी हैं, तो आप इस बात से भलीभांति परिचित होंगे कि छत पर खड़े होने पर भी आप कुछ मीटर ऊपर या थोड़ी दूर सीधे काफी मुश्किल से ही देख पायेंगे। शहरों को इस तरह से योजनाबद्ध किया जाना चाहिए ताकि दृश्य प्रदूषण को कम करने में सफलता प्राप्त की जा सके। निष्कर्ष प्रदूषण दिन-प्रतिदिन हमारे पर्यावरण को नष्ट करते जा रहा है। इसे रोकने के लिए हमें जरुरी कदम उठाने की आवश्यकता है ताकि हमारी इस पृथ्वी की खूबसूरती बरकरार रह सके। यदि अब भी हम इस समस्या का समाधान करने बजाए इसे अनदेखा करते रहेंगे, तो भविष्य में हमें इसके घातक परिणाम भुगतने होंगे। सम्बंधित जानकारी: लोकप्रिय पृष्ठ:. As a result, human life is in danger in the world. Note 2 : The questions will be of multiple choice, objective type.

Next

Hindi Essay on Pollution

paragraph on pollution in hindi

Environmental pollution is happening in many parts of the world, especially in form of air and water pollution. Not only do we use. Pollution is often classed as point source or nonpoint source pollution. Secondly, water pollution the addition of harmful chemicals to natural water by factories. Each of this pollution can be dealt with different methods depending on the source of the error.

Next